Sunday, May 22, 2011

तुम्हारा नाम आया था ...

मैं जब भी टूट कर बिखरा ,
मुकद्दर देख कर सिहरा ,
मुझे ढाढस बंधाने को ..
ग़मों में भी हंसाने को ..
तुम्हारा नाम आया था ...

खिजाँ की बदलियाँ छायीं ,
उजाले जब थे परछाईं ,
दिया बन जगमगाने को...
मुझे रस्ता दिखाने को ...
तुम्हारा नाम आया था ...

दिखी तकदीर की वहशत,
छिनी जब हर मेरी नेमत ,
दुआ में मुझको लाने को ...
ख़ुदा बन कर बचाने को ...
तुम्हारा नाम आया था .....

मगर उस वक़्त-ए-आख़िर जब

उखरती जाती थीं साँसें ,
बुझी जाती थीं ये आँखें ,
मेरी धड़कन बढ़ाने को ...
हमें जिंदा दिखाने को ...
तुम्हारा नाम न आया ....

हमने कर ली जो थी ठानी,
वो पहली बार मनमानी ,
मेरे सजदा-ए-आख़िर पर...
मेरे होठों की जुम्बिश पर ...

मुझे रुखसत कराने को ,
हमें मिट्टी दिलाने को ,
तुम्हारा नाम आया था ...

तुम्हारा नाम आया था ...!

12 comments:

रश्मि प्रभा... said...

मैं जब भी टूट कर बिखरा ,
मुकद्दर देख कर सिहरा ,
मुझे ढाढस बंधाने को ..
ग़मों में भी हंसाने को ..
तुम्हारा नाम आया था ...
bahut sundar bhaw

sushma 'आहुति' said...

har ek pankti bhut hi sunder.. aur dil ko chu lene vali hai... very nice...

saanjh said...

no words for this yaara.....none....

ur amazing...

मैं जब भी टूट कर बिखरा ,
मुकद्दर देख कर सिहरा ,

how sweeet....ja tu khush reh...god bless u

वन्दना said...

बहुत सुन्दर भावाव्यक्ति।

shikha varshney said...

सुन्दर भाव सुन्दर पंक्तियाँ.

संजय भास्कर said...

वाह... बहुत खूब... अच्छी रचना है!

विशाल said...

bahut khoob likha hai bhai.
dil ki kalam se likhte likhte dil ko chhoo liya.

चला बिहारी ब्लॉगर बनने said...

"बस तेरा नाम ही मुकम्मल है".. इस पर कुछ कहना भी क्या होगा!! बस अनुज!!

संजय @ मो सम कौन ? said...

दाऊ होकर चले गये हैं, इसलिये लिंक देने में कोई डर नहीं है अब:)
http://www.youtube.com/watch?v=4WG35D6l7cU

अनुज, जो मिला उसे सहेज लें तो भी बहुत है।

'अदा' said...

मुझे रुखसत कराने को ,
हमें मिट्टी दिलाने को ,
तुम्हारा नाम आया था ...

तुम्हारा नाम आया था ...!

bahut acchi lagin ye panktiyan..

Ravi Shankar said...

जीवन की आपाधापी में आप सब का स्नेह मुझे संबल प्रदान करता है… ! आप सबको नमन !

Amrita Tanmay said...

नेमत तो दिख ही रहा है .यूँ ही दिल से लिखकर दिल तक उतर आये आप.शुभकामना

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...